बाबू मोशाय राजेश खन्ना के कुछ यादगार गीत

         
 राजेश खन्ना भारतीय सिनेमा के सुपरस्टार जिनका आज जन्मदिन है राजेश जी भारतीय सिनेमा की एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम किया और अपनी बेहतरीन अदाकारी से लोगों के दिल में खास जगह बनाई उनकी फिल्में आज भी शौक से देखते है लोग उन्हें काका , बाबू मोशाय के नाम से पुकारा करते थे । आज बाबू मोशाय हमारे बीच इस दुनिया में नहीं है पर उनकी कलाकारी , उनके डायलॉग , उनका अंदाज हमेशा हमें उनकी याद दिलाती रहेगी ।


आज राजेश खन्ना जी के जन्मदिन दिवस पर उन्हीं के कुछ खास गीत -

बिंदिया चमकेगी , ये रेशमी ज़ुल्फ़ें  , छुप गए सारे नजारे
 दो रास्ते 1969

गुलाबी आंखे जो तेरी देखी    द ट्रेन 1970

अच्छा तो हम चलते हैं
आन मिलो सजना 1970

ये जो मोहब्बत है , प्यार दीवाना होता है ,
कटी पतंग 1970

जो तुमको हो पसंद , जिंदगी का सफर
सफर 1970

ज़िन्दगी कैसी है पहेली , मैंने तेरे लिए , कहीं दूर जब दिन
आनंद 1971

ज़िन्दगी एक सफर है सुहाना , है ना बोलो बोलो
अंदाज 1971

रूप तेरा मस्ताना , मेरे सपनों की रानी
आराधना 1969

दीवाना लेके आया है , चला जाता हूँ , मेरे जीवन साथी
मेरे जीवन साथी 1972

चिंगारी कोई भड़के , कुछ तो लोग कहेंगे , ये क्या हुआ
अमर प्रेम 1972

मेरे दिल में आज क्या है
दाग 1973

दिये जलते हैं
नमक हराम 1973

भीगी भीगी रातों में , एक अजनबी हसीना से , हम दोनो दो प्रेमी
अजनबी 1974

जय जय शिव शंकर
आप की कसम 1974

प्रेम कहानी में।  प्रेम कहानी 1975

आपके अनुरोध पे  , आते जाते खूबसूरत आवारा  अनुरोध 1977

आँखों में हमने आपके
 थोड़ी सी बेवफाई 1980

हमें तुमसे प्यार कितना   
कुदरत 1981

प्यार का दर्द है मीठा मीठा
दर्द 1981

शायद मेरी शादी का खयाल
सौतन 1983

राजेश खन्ना जी की फिल्मों के ये गीत हर किसी को पसंद आते हैं लोग आज भी सुनते हुए गुनगुनाते है
जैसे जिंदगी के इस सफर में वक़्त गुजर जाता है मुक़ाम गुजर जाते हैं वो फिर नहीं आते वैसे ही लोग गुजर जाते हैं फिर नहीं आते ।
जिंदगी में गुजर जाते हैं जो मुकाम वो फिर नहीं आते वो फिर नहीं आते ।










4 टिप्पणियाँ:

शरद कोकास ने कहा…

बहुत बढ़िया

Khudeja Khan ने कहा…

बेहतरीन संकलन ।

कोपल कोकास ने कहा…

धन्यवाद पापा

कोपल कोकास ने कहा…

धन्यवाद खुदैजा जी

एक टिप्पणी भेजें