खुश रहना सबसे बड़ी दवा जो किसी दवा बाज़ार में नहीं मिलती

                          

तनाव वह अवस्था है जो व्यक्ति पर इतना दवाब डालती है की उसे समायोजन की ज़रूरत पड़ जाती है या समायोजन करना पड़ता है -
 तेज़ी से बदलते माहौल में हमारे शरीर और मन पर जो असर पड़ता है, उसे तनाव कहते है।

जे सी कोलमैन ने कहां है की -"कोई भी परिस्थति जो व्यक्ति पर दबाव डाकती है जिसके कारण व्यक्ति को समायोजन करना पड़ता है यही तनाव है ।"

समाज में रहते हुए अपने व्यक्तित्व विकास के प्रयास में जब व्यक्ति वातावरण में उत्पन्न समस्याओं के प्रति संघर्ष करने में असमर्थ हो जाता ही तो उसके खिलाफ़ भयावह स्थितियां बन जाती है जब व्यक्ति शारीरिक , मानसिक अवस्था मनोवैज्ञानिक रूप से दबाव में रहता है यह तनाव और अशांति की मिली-जुली अवस्था ही तनाव है Ι


तनाव से परेशानी

  • चिंता करना
  • परेशान रहना
  • हताशा होना
  • किसी चीज में मन न लगना
  • हाईब्लडप्रेशर
  • नींद ना आना
  • चिडचिडापन
  • धडकन बढ़ जाना , कम्पन होना
  • हाइपोग्लाइसीमिया
  • पिट्यूटरी ग्लैंड के हर्मोंन कार्टिसोन का स्त्रवन ज्यादा तेज हो जाना
  • दुश्चिंता
  • सभ्रम .
  • पाचन क्रिया का धीमा हो जाना.
  • रक्त संचार का ठीक न होना.
  •  वजन घट जाना.
  •  अचानक ब्लड प्रेशर बढ़ जाना
  •  थकान महसूस करना. . मन का उदास रहना.
  • सांसे अचानक तेज होना



तनाव के कारण

प्रेमपूर्ण रिश्तो में खटास आ जाना 
वैवाहिक जीवन में परेशानी
परिवार में परेशानी 
किसी काम के लिए समय की कमी 
गम्भीर बीमारी होना
आर्थिक समस्या होना
नौकरी बदल जाना या निकाला जाना 
बच्चो की फ्रिक्र रहना 
नजदीकी रिशो में किसी की म्रत्यु होना
कर्ज होना 
जीवन से संतुष्ट न होना 
किसी चीज की अपेक्षा रखना 
परीक्षा में फेल हो जाना 
नौकरी न लगना 

 तनाव दूर करने के उपाय 








  • सूर्यादय से पहले उठे, सुबह सैर पर जाए , व्यायाम करे स्वस्थ मस्त मानसिक रूप से मस्त Ι
  • उत्साह नयी सोच ,आत्मविश्वास ऊर्जा के साथ काम करे व्यवस्थित दिनचर्या बनाए इतने बजे ये काम करना , इतने बजे काम खत्म करना Ι 
  • कुछ रचनात्मक कार्य करे जिसमे आपकी रूचि हो ऐसा काम जिससे मूड एकदम मस्त हो जाए Ι
  • किसे विषय पर ज्यादा ना सोचे जो होना है होकर रहेगा आपके सोचने से कुछ नही होगा Ι 
  • आसपास के छोटे बच्चों से मिले उनसे सीखे जीवन में कोई तनाव बस हंसी , मुस्कुराहटें , खुशियां और मस्ती ।
  • आज कोई काम नहीं हो सका कोई बात नहीं सूरज , चाँद , उजाला अँधेरा इनसे कुछ सीखिए रोज चाँद निकलता है अंधेरी रात होती है फिर सूरज उगता है सुबह नए दिन की शुरुआत होती है ये इनकी रोज की दिनचर्या है ये कभी थकते नहीं है ये नियत समय पर आते है चले जाते है जीवन की परेशानी भी ऐसी है जिस तरह आई उसी तरह चली जायेगी हां जरुर जब तक है तब तक व्यक्ति हताश हो जाता है नही ये सोचिये की आप सिर्फ सोच रहे आने वाला वक्त इससे भी अच्छा होगा खुश रहिये
  • अपने मन में कोई बात ना रखे अपने घर - परिवार ,मित्र से बांटे Ι 
  • रोज कोई नया कार्य करे जैसे आज तक अगर किसी व्यक्ति ने चाहे वह महिला हो या पुरुर्ष लड़का या लडकी रसोई में हुनर ना आजमाया हो तो आज ही शुरुआत कीजिए , घर को नए तरीके से सजाना , बागबानी करना , डांस करना , पेंटिंग , क्राफ्ट का काम ,सिलाई बुनाई कढाई के काम करे अपने हुनर को वक्त दे  
  • रोज कुछ नया लिखिए जरुर्री नहीं की आप कोई लेखक , कवि या शायर ही हो एक नई डायरी , नोटबुक अपनी सुविधा के हिसाब से उसमे अपने मन की सारी बाते लिखे आज तो ई डायरी का ज़माना है पर लिखिए ज़रूर जितना मन चाहे जब आप लिखेगे तो ज्यादा अच्छे से अपने तनाव को कम कर पाएंगे Ι 
  • नींद ना आये तो एक अच्छी किताबी पढ़े अपनी पसंद की किताबे पढ़े किताबो से अच्छा कोई दोस्त नहीं ये दोस्त तनाव कम करेंगी चाहे तो लाइब्रेरी ज्वाइन कर लीजिये
  • अगर तनावपूर्ण माहौल रहेगा तो तनाव बढेगा इसलिए अपने आसपास का माहौल अच्छा रखे
  • अपनी पसंद का खाना बनाये , कपडे पहने अपनी पसंद का काम करे Ι 
  • तनाव होने पर सर की मालिश करे मालिश से तनाव में नीद , सर दर्द में आराम मिलेगा Ι
  • उन लोगो से मिलिए जिनके पास अपना कोई नहीं है गरीब , बेसहारा लोगो की मदद करे ।
  • आप किसी भी उम्र के हो बुजुर्गो से मिले उनकी सेवा करे Ι 
  • प्रसन्न रहे प्रसन्नं रहना हर दर्द हर दुःख की दवा है खूब प्रसन्न रहे  टीवी या यू टूयूब पर हँसने-हँसाने वाले वीडियो देखे Ι 
  • ऐसी चीजो , व्यक्तियों , माहौल से दूर रह जिससे आपको तनाव होता है Ι 
  • पौष्टिक भोजन ले पानी ज्यादा से ज्यादा पिए Ι 
  • नशे से दूर रहे नशा आपको तनाव का नशा होने देगा 
  • अपने को प्रकृति पास रखे हरी - भरी हरियाली, ठंडी हवा, सुहाना मौसम ऐसी जगह पर रहे Ι 
  • नाहते वक्त अच्छा मद्धम संगीत सुने संगीत तन मन को प्रसन्नता देता है दिमाग में जो उथल पथल है उसे संगीत दूर भगा देगा Ι 
  • ठन्डे पानी से नहाये ज्यादा अच्छा है आप शावर से नहाए ठंडा पानी जब शरीर पर जाता है तो तनाव का टाटा हो जाता है Ι 
  • आदतों में बदलाव करे कभी कभी गलत आदतों की वजह से तनाव होता है  
  • स्वयं को व्यस्त रखे खाली दिमाग मतलब शैतान का घर यह घर ना बनने दे कुछ न कुछ काम में सक्रिय रहे  
  • ताजी हवा में पार्क की सैर करे नये लोगो से मिलिए कुछ अपनी बताइए कुछ उनकी सुनिए  
  • यात्राओं के शौक़ीन है तो निकल जाइए परिवार या अकेले या  मित्र मंडली के साथ
  • हमेशा सकारात्मक सोच रखे  
  • अपनी दिनचर्या में बदलाव लाइए जीवन की एकरसता में नया रंग व रस लाइए
  • अपने खुद के लिए वक्त निकाले  
  • एक नई पहल अक्सर वक्त हाथ से निकल जाता है और हम अफ़सोस करते है कोई बात नहीं फिर नया वक्त आ जाएगा और नई शुरुआत करिए  
  • मेदिटेशन करे यह तो सही है जब हम ध्यान लगाता है तो सब ठीक हो जाता है ध्यान से मानसिक तनाव को दूर भगा दो


खुश रहे क्योंकि जितना आप खुश रहेगे तनाव से दूरियां होती जायेंगी खुश रहना सबसे बड़ी दवा है । 



10 टिप्पणियाँ:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (10-09-2017) को "चमन का सिंगार करना चाहिए" (चर्चा अंक 2723) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Onkar ने कहा…

उपयोगी जानकारी

कोपल कोकास ने कहा…

जी धन्यवाद

शरद कोकास ने कहा…

अच्छा लिखा है ।

ASE News Team ने कहा…

Read A A A A

ASE News Team ने कहा…

L M N O thanks

ASE News Team ने कहा…

A A A A A

ASE News Team ने कहा…

A A A A A A A

ASE News Team ने कहा…

B C D E F

ASE News Team ने कहा…

G HI J K

एक टिप्पणी भेजें