परीक्षा का खाना





मार्च का महीना है वो भी परीक्षाओं का हर स्टूडेंट परीक्षाओं के इस मौसम में तनाव में रहते है इसलिए मैं लाइ हूँ अपने कुछ फ़ूड टिप्स जो वे अपनी डाइट में ले सकते है क्योंकि सभी स्टूडेंट की समस्या रहती है पढ़ते समय बीच - बीच में भूख लगती है तो क्या खाएं चूंकि इस वक्त स्ट्रेस लेवल बढ़ा रहता है इसलिए ऐसी  डाइट लेना चाहिए जो पाचन में सरल हो और टेस्टी भी हो

तो चलिए जानते है कि पढ़ाई के दौरान क्या खाएं

  • सबसे पहली बात किसी भी हालत में भूखे ना रहे बीच - बीच में कुछ न कुछ खाते रहे बहुत से स्टूडेंट पढ़ाई में इतने मशगुल हो जाते है कि खाना भूल जाते है इसका परिणाम यह होता है कि पढ़ाई में भी मन नहीं लगा पाते है

  • जो भी खाएं वह पौष्टिक हो ज्यादा तला - भूंजा या बहुत ज्यादा मीठा ना हो

  • फल , हरी सब्जी , दूध ले

  • आप मुरमुरा की भेल ,फलों की चाट

  • जंक फ़ूड बिलकुल ना ले
 
  • मेवे में डीएचए की मात्रा काफी पाई जाती है जो दिमाग और आंखों के लिए बेहतरीन होती है।

  • हमेशा हाइड्रेटेड रहें। चाय या कॉफी हमेशा लिमिट में पिएं और कोशिश करें की कैफीन को पानी या जूस के बाद पिएं। ज्‍यादा कॉफी बच्‍चे को चिडचिडा बना सकती है। 

  • अगर अगले दिन परीक्षा है तो एक रात पहले अच्छे से खाना खाएं रात को जल्दी बेड पर चले जाएं इससे आपकी नींद पूरी होगी और आप सही समय पर उठ कर अपना रीविजं कर पाएंगे

  • सुबह उठते ही अच्‍छे से ब्रेकफास्‍ट करें जिसमें एक कटोरा कार्नफ्लैक्‍स और साथ में एक फल जैसे सेब या अनार लिया जा सकता है। आप जो भी खाएं उसमें कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, प्रोटीन और फाइबर होना चाहिए।

  • परीक्षा के समय आपको ओमेगा-3 फैटी एसिड की अत्यधिक जरूरत होती हैं। यह दिमाग को सही काम करने और फोकस करने में मदद करता हैं। इसकी मदद से बच्चे की याद करने की शक्ति में बढ़ती हैं, इससे आप किसी भी पाठ को आसानी से याद कर सकते हैं। मछली में ओमेगा थ्री फैटी एसिड होते हैं, जो हमारे मस्तिष्‍क को अच्छे तरीके से काम करने में मदद करते हैं।

  • अपने भोजन में विटामिन बी और आयरन युक्त  आहार जैसे दाल, पालक, सोयाबीन, मछली, रेड मीट ,अनाज, अंडा शामिल  करें। यह आपको मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ बनाए रखने में मदद करेगा। जबकि विटामिन बी आपको बादाम, अनाज, गेंहू के बीज और अंडे से आसानी से मिल जायेगा ।


  • आपके विचार करने की शक्ति और याददाश्त को जिंक जैसे खनीज लवण की सहायता से बढ़ाया जा सकता हैं। लेकिन हमारे शरीर को इसकी ज्यादा मात्रा की जरूरत नहीं पड़ती हैं। इसके लिए आप सी फ़ूड, अंकुरित चने खा सकते हैं ।


  • अमेरिकन जर्नल ऑफ एपिडेमिओलॉजी के अनुसार विटामिन सी का पर्याप्‍त सेवन से मानसिक क्षमता में इजाफा होता है। नट्स विटामिन ई के उच्‍च स्रोत होते हैं। इसके साथ ही हरी पत्‍तेदार सब्जियां, पालक, ऑलिव, बीज, अंडे, ब्राउन राइस और साबुत अनाज में भी भरपूर मात्रा में विटामिन ई होता है। तेज दिमाग करने के लिए नट्स का सेवन जरुर करना चाहिए |

  • पढ़ाई के बीच समय निकालकर कुछ सूखे मेवे जैसे- बादाम या फिर मूंगफली चबाते रहें। इससे दिमाग सक्रिय रहेगा। लेकिन इतना भी न खाएं कि पेट एकदम भर जाए। इससे आलस्य पैदा होगा ।

  • इसलिए चाकलेट, कार्बोहाइड्रेट वाले स्नैक्स, बिस्कुट, मीठा, स्क्वैश या कोल्ड ड्रिंक पीने से बचें। यह एकाग्रता में बाधक हैं। इससे रिवीजन में भी परेशानी महसूस होती है। चाय, काफी या किसी एनर्जी ड्रिंक के अधिक सेवन से बचें। दोपहर को भरपेट खाने, जंक फूड, पिज्जा, मैगी, चिप्स या सैंडविच आदि नहीं खाना चाहिए इन्हें यदि आप लेंगे तो बेशक आपका मोटापा बढ़ेगा और आप पढ़ाई में आलस महसूस करेंगे केक, पेस्ट्री, या तैलीय चीजें न खाएं। यह नसों से दिमाग तक संदेश पहुंचने की प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं। इससे पढ़ी हुई बात को याद रखने में परेशानी आती हैं ।

  • इसके अलावा खूब सारा पानी पिएँ पानी पीने के लिए आप हर बार एक बोतल में पानी भरें और अपनी टेबल के पास रख लें ऐसा हर बार करें जब पानी खत्म हो आप जाएं एक गिलास पानी पिएँ और चाहे तो एक बोतल में पानी साथ भी रख ले
 
  • परीक्षा के समय एक बैठक में पढ़ाई ना करें यह और स्ट्रेस बढ़ाता है बीच - बीच में थोड़ा तले थोड़ा पढ़े , कुछ खाएं एक बैठक की पढ़ाई थकान दे सकती है इसलिए जूस भी ले




7 टिप्पणियाँ:

RADHA TIWARI ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल बुधवार (14-03-2018) को "ढल गयी है उमर" (चर्चा अंक-2909) पर भी होगी।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
राधा तिवारी

Sriram Roy ने कहा…

बहुत बढ़िया भोजन टिप्स

कोपल कोकास ने कहा…

धन्यवाद श्रीराम जी

Kranti Bhushan ने कहा…

बढ़िया और बेहद ज्ञानवर्धक । दरअसल स्वास्थ्यवर्धक कहना ज्यादा सही है ।

Neelima karaiya ने कहा…

सही समय पर बहुत अच्छी जानकारी दी है कोपल। जरूरी भी है । विद्यार्थियों के अलावा भी सभी के लिये फायदेमंद।बहुत बहुत शुभकामनायें बेटा।

कोपल कोकास ने कहा…

जी क्रांति जी

कोपल कोकास ने कहा…

धन्यवाद नीलिमा जी

एक टिप्पणी भेजें