बचपन

बचपन के दिन बहुत ही प्यारे होते है न कोई फिक्र होती है न कोई चिंता होती है कहते है बच्चे कच्ची मिट्टी के समान होते है उन्हे जिस रुप में ढालो वे ढल जाते है । चैन से खेलने , खाने , मस्ती करने , धमा चौकडी मचाने की उमर होती है । ये एक ऐसी उमर है जो बीत जाये तो फिर नही दुबारा हाथ आती । हर व्यक्ति एक बार अपना बचपन जरुर जीना चाहता है । आज बाल दिवस है । बच्चे किसे प्यारे नहीं होते है । बचपन के दिन पंख लगाकर तेजी से आते है उतनी ही तेजी से गुजर जाते है ।
बचपन के दिन वाकई बहुत खूबसूरत और यादगार होते है । बेशकीमती होते है इन्हे सहेज कर रखिये कही खो ना जाये बच्चे । कल ये बच्चे ही जीवन की , समाज की , घर परिवार की एक नयी तस्वीर बनायेंगे । आज बहुत दुख होता है , जब देखते है कि छोटे छोटे बच्चे अपने नन्हे नन्हे हाथों से नाजाने ऐसे ऐसे काम कर रहे है जिनके बारे में हम सोच भी नहीं सकते है ।
आये दिन अखबार कितनी खबरों से सामना होते है जो सिर्फ बच्चो पर होती है बच्चो के साथ ये काम किया गया , उन्हें मारा पिटा गया , उन पर अत्याचार किया गया और ना जाने क्या क्या । तब बहुत दुख होता है कि क्या ये है हमारे देश की तस्वीर । हम अपनी प्रक़ृति को ,देश को हर बेशकीमती चीज को बचा सकते है तो फिर बच्चो पर हो जुर्म को क्यों नहीं रोक सकते है । हम भी तो कभी बच्चे थे तो हमें मिलकर ही इन्ही चीजों को रोकना होगा । वरना आने वाले वर्षो में हमारे समाज की देश की जो तस्वीर होगी वो कल्पना से भिन्न होगी । आज बाल दिवस पर आप सभी को बाल दिवस की शुभकामनायें ।
बच्चे
घर परिवार की शान होते है बच्चे ।
हर पहचान की शान होते है बच्चे ।
हर इंसान की शान होते है बच्चे ।
देश की ,समाज की ,शान होते है बच्चे ।
मासूमियत से ,चुलबुलाहट से ,मस्ती से
प्रेम से , उमंग से , बचपन की शान होते है बच्चे
लड़का हो या लड़की माता पिता की जान होते है बच्चे ।
जीने की संग रहने की हर बात की तालीम देते है बच्चे ।
माता पिता की आँखो का तारा होते है बच्चे ।
हर रुप प्यारे लगते है बच्चे ।
चाहे बुरे हो या भले हर इंसान की चाहत होते है बच्चे ।
बड़े प्यारे होते है बच्चे ।

14 टिप्पणियाँ:

आशीष मिश्रा ने कहा…

बहोत ही सुंदर प्रस्तुति.......

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति और पोस्ट!
--
बाल दिवस की शुभकामनाएँ!

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

-----------------------------------------------------
कोंपल सहित दुनिया के सभी बच्चों को
मेरी तरफ से बहुत-बहुत प्यार!

-----------------------------------------------------

चैतन्य शर्मा ने कहा…

थैंक यू .... आपने कितना अच्छा लिखा.....
हमारे लिए...... सादर

शरद कोकास ने कहा…

वा भई वा ! कविता बहुत अच्छी है । लेकिन कविता की ट्रेनिंग लेना पड़ेगा । और इसमे अपने बचपन की एक तस्वीर भी लगा दो ।

AlbelaKhatri.com ने कहा…

अत्यन्त कोमलकांत और सुन्दर प्रस्तुति

इस पोस्ट के लिए ढेरों बधाई !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर पोस्ट सजाई है आपने!
--
बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!
--
आपकी पोस्ट की चर्चा तो बाल चर्चा मंच पर भी है!
http://mayankkhatima.blogspot.com/2010/11/28_15.html

Richa P Madhwani ने कहा…

http://shayaridays.blogspot.com

दर्शन लाल बवेजा ने कहा…

जन्म दिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

योगेन्द्र पाल ने कहा…

जन्मदिन की शुभकामनाएं

कविता रावत ने कहा…

जन्म दिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

संजय भास्कर ने कहा…

जन्मदिन पर शुभकामनाएँ!

smshindi By Sonu ने कहा…

ईद मुबारक आप एवं आपके परिवार को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ.एक ब्लॉग सबका

ईद पर विशेष अनमोल वचन

प्यार की बात ने कहा…

"Sahsa Pani Ki Ek Boond Ke Liye"

एक टिप्पणी भेजें